सौरव गांगुली की तबियत खतरे से बाहर

 03 Jan 2021  237

संवाददाता/in24 न्यूज़.  
सौरव गांगुली का स्वास्थ्य खतरे से बाहर बताया गया है. बता दें कि बीसीसीआई अध्यक्ष व टीम इंडिया के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली की तबियत स्थिर है। हालांकि डॉक्टरों की टीम उनके स्वास्थ्य पर लगातार निगरानी बनाए हुए है। गांगुली की शनिवार को एंजियोप्लास्टी हुई और अब वह खतरे से बाहर हैं। सीने में दर्द की शिकायत के बाद गांगुली को कोलकाता के वुडलैंड्स म्यूनिसिपैलिटी अस्पताल में भर्ती कराया गया था। सौरव गांगुली कोलकाता के एसएसकेएम अस्पताल में प्रोफेसर और डॉक्टर सरोज मोंडल की देखरेख में वुडलैंड्स अस्पताल में हैं। मोंडल ने कहा कि  सौरव गांगुली की हालत अब स्थिर है और उनकी एंजियोप्लास्टी हुई है। वह अभी होश में है और स्थिर है। जब वह घर में जिम में वर्कआउट कर रहे थे तो सीने में दर्द की शिकायत हुई थी। डॉक्टर ने कहा कि गांगुली को तुंरत अस्पताल लाया गया, जहां उन्हें सभी तरह की चिकित्सा सुविधाएं मुहैया कराई गई है। गांगुली घर में बने जिम में वर्जिश कर रहे थे और इसी दौरान उन्हें चक्कर आया और फिर उन्होंने ब्लैकआउट की शिकायत की। उन्होंने अपने पारिवारिक डॉक्टर को बुलाया जिन्होंने उन्हें तुरंत अस्पताल में भर्ती होने की सलाह दी थी। रविवार को जारी मेडिकल बुलेटिन में कहा गया कि बीती रात सामान्य रही और उन्हें बुखार नहीं है। वह अभी सो रहे हैं। गांगुली का ब्लेडप्रेशर 110/70 है तथा उनके शरीर में ऑक्सीजन का लेवल 98 फीसदी है। डॉक्टरों ने कहा कि गांगुली की स्थिति को देखने के बाद उनकी एक और एंजियोप्लास्टी करने के बारे में फैसला लिया जाएगा। सौरव गांगुली का केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने भी हालचाल लिया है। अमित शाह ने सौरव गांगुली की पत्नी डोना गांगुली को फोन कर उनके स्वास्थ्य के बारे में अपडेट लेते हुए उनके शीघ्र स्वस्थ होने की कामना की। गृहमंत्री अमित शाह ने डोना गांगुली से कहा कि सौरव गांगुली के इलाज में किसी भी तरह की जरूरत पड़ने पर हर संभव सहायता उपलब्ध कराई जाएगी। बता दें कि सौरव के प्रशंसक लगातार उनके शीघ्र स्वस्थ होने के लिए दुआएं कर रहे हैं.