ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ रोहित शर्मा का शानदार रिकॉर्ड

 08 Jan 2021  315

संवाददाता/in24 न्यूज़.  
टीम इंडिया और ऑस्ट्रेलिया के बीच सिडनी क्रिकेट ग्राउंड पर खेले जा रहे टेस्ट मैच के दूसरे दिन रोहित शर्मा (Rohit Sharma) ने एक अद्भुत रिकॉर्ड अपने नाम किया है, जो इससे पहले तक कोई बल्लेबाज नहीं कर पाया है. रोहित शर्मा ऑस्ट्रेलियाई टीम के खिलाफ अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट टीम में छक्कों का शतक लगाने वाले पहले बल्लेबाज हैं. रोहित शर्मा ने नाथन लायन की गेंद पर कदमों का इस्तेमाल करते हुए लॉगन ऑफ की दिशा में एक बेहतरीन छक्का लगाकर इस मुकाम को हासिल किया. ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सबसे अधिक छक्के लगाने के मामले में इंग्लैंड के इयोन मोर्गन दूसरे नंबर पर हैं. हालांकि, दोनों बल्लेबाजों के बीच छक्कों का फासला काफी अधिक है. इयोन मोर्गन ने 63 छक्के लगाए हैं. वहीं इस लिस्ट में तीसरे पायदान पर न्यूजीलैंड के पूर्व कप्तान ब्रेंडन मैक्कलम हैं, जिन्होंने 61 छक्के लगाए हैं. भारतीय टीम के दिग्गज बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर और महेंद्र सिंह धोनी ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 60-60 छक्के लगाए हैं. रोहित शर्मा ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ वनडे में 76 छक्के लगाए हैं, जबकि टी20 अंतरराष्ट्रीय में उन्होंने 15 छक्के लगाए हैं. रोहित शर्मा आईपीएल के 13वें संस्करण में चोटिल हो गए थे. इसके कारण वो ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ हुई वनडे सीरीज, टी20 सीरीज और चार टेस्ट मैचों की सीरीज के दो मुकाबलों से बाहर बैठे रहे. रोहित बॉर्डर-गावस्कर सीरीज के तीसरे मुकाबले से वापसी कर रहे हैं. इस मैच में उन्होंने शुभमन गिल के साथ मिलकर भारतीय पारी को अच्छी शुरूआत दिलाई. दोनों बल्लेबाजों के बीच पहले विकेट के लिए 70 रनों की साझेदारी हुई. रोहित शर्मा 26 रन बनाकर हेजलवुड का शिकार बने. वहीं इससे पहले दूसरे दिन 166/2 के स्कोर से खेलने आई ऑस्ट्रेलियाई टीम को लाबुशेन और स्मिथ ने अच्छी शुरूआत दिलाई. एक समय पर ऑस्ट्रेलियाई टीम 200 रन बना चुकी थी और उसके हाथ में 8 विकेट मौजूद थे. इसके बाद जडेजा ने अपनी गेंद से जादू दिखाया. उन्होंने पहले शतक की तरफ से बढ़ रहे लाबुशेन को रहाणे के हाथों कैच करवा पवेलियन की राह दिखाई. इसके बाद उन्होंने मैथ्यू वेड, पैट कमिंस और नाथन लायन का भी विकेट हासिल किया. हालांकि, स्मिथ एक ओर से रन बनाते रहे और वो अपनी शतकीय पारी के साथ दम पर वो टीम के स्कोर को 338 रन तक ले जाने में सफल हुए. बता दें कि रोहित शर्मा ने चोटिल होने के बाद जिस तरह बल्लेबाजी का कमाल दिखाया वह काबिलेतारीफ है.